All Right Reseved

Tuesday, 23 August 2022

Gayaब्रेकिंग [जानें, गया में पितृपक्ष कब एवं Gaya की अन्य खबरें]-(मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान)- Shradh Update Date 2022- AnjNewsMedia

गया में पितृपक्ष मेला महासंगम 09 सितंबर से होगा प्रारम्भ

पितृपक्ष मेले के दौरान 55 पिंडवेदी पर पिंडदानी करते हैं अपने पूर्वजों का पिंडदान


Gayaब्रेकिंग [जानें, गया में पितृपक्ष कब एवं Gaya की अन्य खबरें]-(मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान)- Shradh Update Date 2022- AnjNewsMedia
पितृपक्ष मेला महासंगम
आगामी 
09 सितंबर 2022 से 25 सितंबर तक

गया : पितृपक्ष मेला महासंगम आगामी 09 सितंबर 2022 से 25 सितंबर तक चलेगा। इस दौरान विष्णुपद मंदिर में पूजा-अर्चना कर पिण्डदानी अपने पूर्वजों की शांति एवं परिवार की सुख एवं समृद्धि की कामना करते हैं। देवघाट पिंडवेदी सहित अन्य वेदियों पर पिंडदानी पिंडदान करते हैं। इस बार नवनिर्मित रबड़ डैम में भी पितरों का तर्पण किया जाएगा।

पितृपक्ष मेला अवधि में एवं अब सालोभर तीर्थयात्रियों के लिये फल्गु नदी में जल की उपलब्धता रहेगी। पिंडवेदी सीता-कुंड अबकी रबड़ डैम से जुड़ जाएगा। सीता कुंड में भी पिण्डदानी पूजा-अर्चना करते हैं और सुख-शांति एवं समृद्धि की कामना करते हैं।

अक्षयवट पिंडवेदी भी पिंडदान के लिए प्रसिद्ध है। पिंडदानियों को किसी प्रकार की कठिनाई नहीं होती है। बिल्कुल सहज तरीके से ब्रह्म सरोवर एवं वैतरणी सरोवर में भी पिंडदान विधान संपन्न कराया जाता है। जो सुफलदायी होता है। 

Gayaब्रेकिंग [जानें, गया में पितृपक्ष कब एवं Gaya की अन्य खबरें]-(मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान)- Shradh Update Date 2022- AnjNewsMedia
पितृपक्ष मेला महासंगम
गया में सुफल पिंडदान का विधान 

पितृपक्ष मेला महासंगम- 2022 की तैयारी अंतिम चरण में है। इस वर्ष पितृपक्ष मेले का आयोजन 09 सितंबर 2022 से 25 सितंबर, 2022 तक निर्धारित है। पितृपक्ष मेले से संबंधित गयाजी में 55 पिंडवेदी है। उन्हीं पिंडवेदियों पर प्रमुखता से पिंडदान किया जाता है। महत्वपूर्ण पिंडवेदियों एवं घाटों पर ख़ास तैयारी की जा रही है। 

Gayaब्रेकिंग [जानें, गया में पितृपक्ष कब एवं Gaya की अन्य खबरें]-(मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान)- Shradh Update Date 2022- AnjNewsMedia
पितृपक्ष मेला महासंगम-2022 
मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान

अबकी फल्गू नदी में निरंतर जलस्तर संधारण हेतु रबड़ डैम का निर्माण किया गया है। इससे यहां आने वाले श्रद्धालुओं को काफी सहूलियत होगी। रबड़ डैम के ऊपर स्टील ब्रिज का निर्माण किया गया है। जिससे सीता कुंड एवं देवघाट की दूरी 03 किलोमीटर से घटकर 1.2 किलोमीटर में सिमट जाएगी।

इससे तीर्थ यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। पितृपक्ष मेले के दौरान आवास साफ- सफाई, जलापूर्ति, स्वच्छता, स्वास्थ्य, विद्युत व्यवस्था, यातायात सुविधा एवं विधि- व्यवस्था को लेकर जिला प्रशासन की और से की जा रही है पूरी तैयारी।

Gayaब्रेकिंग [जानें, गया में पितृपक्ष कब एवं Gaya की अन्य खबरें]-(मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान)- Shradh Update Date 2022- AnjNewsMedia
बने रहिए! अंज न्यूज मीडिया के साथ
ज्ञात हो पितृपक्ष मेले में देश के कोने- कोने से तीर्थयात्री बड़ी संख्या में श्रद्धाभाव से अपने पूर्वजों का पिंडदान और तर्पण करने गया की मोक्षभूमि पर आते हैं। पितृपक्ष मेले में आने वाले श्रद्धालुओं की हर प्रकार की सुविधाएं सुनिश्चित की जाती है।

मेला महासंगम के दौरान श्रद्धालुओं को हर प्रकार की सुविधा मिलती है। उनके आवासन की भी बेहतर व्यवस्था रहती है। इसके अलावे घाट, मंदिर, वेदी, तालाब एवं पूरे शहर की साफ- सफाई की बेहतर व्यवस्था रहती है। मेला अवधि में श्रद्धालुओं के भोजन की शुद्धता का भी विशेष ख्याल रखा जाता है।

जाहिर हो गया केवल बिहार प्रदेश ही नहीं, देश और दुनिया के लिए ऐतिहासिक और पौराणिक स्थल है। गया शहर को "गयाजी" की संज्ञा मिली हुई है। इस बार गया शहर की विभिन्न शहरों से बेहतर कनेक्टिविटी की गयी है ताकि श्रद्धालुओं को यहां आवागमन में सहूलियत हो।

Gayaब्रेकिंग [जानें, गया में पितृपक्ष कब एवं Gaya की अन्य खबरें]-(मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान)- Shradh Update Date 2022- AnjNewsMedia
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये
डीएम त्यागराजन ने किया 20 मामलों की सुनवाई
 

लोक शिकायत में मामलों पर हुई सुनवाई

गया : लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम, 2015 द्वितीय अपील के तहत ज़िला पदाधिकारी डॉ० त्यागराजन एसएम द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कुल 20 मामलों की सुनवाई की गई, जिसमें कुछ मामलों का निष्पादन ऑन-द-स्पॉट किया गया।

रंजीत कुमार, गया एवं राजेंद्र प्रसाद गुप्ता, टिकारी के मामले में जिला पदाधिकारी द्वारा भूमि सुधार उप समाहर्ता, टिकारी को जांच करते हुए 15 दिनों के अंदर जांच प्रतिवेदन के साथ अगली सुनवाई की तिथि को उपस्थित होने का निर्देश दिया।

स्नेहा रिया, पिता कृष्ण कुमार, कार्यालय परिचारी, अंचल कार्यालय वजीरगंज की आकस्मिक मृत्यु दिनांक 30 सितंबर 2019 को हो गया। मृत्यु के उपरांत आश्रित द्वारा बकाया वेतन एवं अनुकंपा पर नौकरी के लिए आवेदन दिया गया।

जिलाधिकारी त्यागराजन ने जिला स्थापना उप समाहर्ता को पूर्व को आदेश दिया गया था, जिसके आलोक में स्नेहा रिया की नियुक्ति अनुकंपा के आधार पर दिया गया है। जिलाधिकारी द्वारा वाद की कार्रवाई समाप्त की गई। 

संदीप अग्रवाल, डुमरिया द्वारा शिकायत दर्ज किया गया कि उनके पड़ोसी हकीम अंसारी, पिता गुलाम अंसारी के द्वारा अपना घर का दरवाजा एवं प्रतिवादी का दुकान का दरवाजा एक ही जगह पर खुला है, जिसके कारण आवाजाही में समस्या हो रही है। जिला पदाधिकारी ने अंचल अधिकारी, डुमरिया को नापी करवाते हुए प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

Gayaब्रेकिंग [जानें, गया में पितृपक्ष कब एवं Gaya की अन्य खबरें]-(मोक्षभूमि गया में पूर्वजों का पिंडदान)- Shradh Update Date 2022- AnjNewsMedia
युवानेता चितरंजन कुमार चिंटूभईया

आगामी 25 अगस्त को वजीरगंज में LJPR के कार्यकर्ताओं की बैठक : चिंटूभईया

वजीरगंज, गया : जाहिर हो अगामी 27 अगस्त 2022 को पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में लोकसेवक रामविलास पासवान विचार मंच की सभा आयोजित की जाएगी। यह सभा जहानाबाद के पूर्व सांसद डॉ. अरुण कुमार के नेतृत्व में होगी।

सभा की सफल आयोजन के लिए आगामी 25 अगस्त 2022 को वजीरगंज स्थित LJPR के पार्टी कार्यालय में पूर्वाह्न 11 बजे कार्यकर्ताओं की एक बैठक आयोजित की जाएगी। इस स्थानीय बैठक में कार्यक्रम की तैयारी पर होगी समीक्षा। वजीरगंज में इस बैठक का नेतृत्व LJPR पार्टी के युवानेता चितरंजन कुमार चिंटूभईया करेंगे।


- AnjNewsMedia Presentation 

No comments:

Post a Comment

LazyLoad.txt Displaying LazyLoad.txt.