All Right Reseved

Monday, 5 September 2022

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia

 

गया का छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग

पितृपक्ष मेले में दीपावली की छँटा

PitruPaksha की ऐसी व्यवस्था 

गया में PitruPaksha मेले का पुख्ता व्यवस्था, कड़ी सुरक्षा

मेले क्षेत्र हुआ रोशनी से जगमग

PitruPaksha मेला क्षेत्र का DM- SSP ने किया निरीक्षण 

PitruPaksha मेला महासंगम 9 सितंबर से होगा आगाज


गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
गया में पितृपक्ष मेला महासंगम का व्यापक व्यवस्था
पिंडवेदियों  को किया गया चकाचक !
PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार

गयाजी डैम का DM त्याग - SSP कौर ने किया निरीक्षण  

गया : जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम तथा वरीय पुलिस अधीक्षक हरप्रीत कौर ने पितृपक्ष मेला क्षेत्र का किया निरीक्षण। DM एवं SSP द्वारा संयुक्त रुप से मेला क्षेत्र सहित देवघाट, सूर्यकुंड, सीताकुंड तथा अन्य पिंडवेदियों का घूम- घूम कर निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को कई आवश्यक tips दिए। 

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
पिंडवेदी का DM त्याग - SSP कौर ने किया निरीक्षण

ज्ञात हो आगामी 9 सितम्बर से पितृपक्ष मेले की आगाज होगी। जिला प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है।  जाहिर हो विश्व प्रसिद्ध पितृपक्ष के दौरान बड़ी संख्या में पिंडदानी गया पधार कर अपने पितरों के मोक्ष की प्राप्ति के लिए पिंडदान- तर्पण करते हैं।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
पितृपक्ष मेला महासंगम पर दुल्हन की तरह सजा गया शहर
छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग

 

इस वर्ष पितृपक्ष मेला, 2 वर्षों के बाद आयोजित किया जा रहा है। अधिक संख्या में तीर्थयात्री की आने संभावना है। सभी पदाधिकारी अपने- अपने दायित्वों को पूरा करने में जुटे हुए हैं। तीर्थयात्री गया जिले से अच्छी सोच लेकर वापस हों, ऐसी धार्मिक वातावरण तैयार की  रही है।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
पिंडवेदी का DM त्याग एवं SSP कौर ने किया निरीक्षण

DM एवं SSP ने कहा प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। pitrupaksha मेला क्षेत्र की तमाम कमियां को दूर कर दी गई है। उन्होंने कहा घाट, पिंडवेदियों समेत पिंडदान स्थल को चकाचक  गया है। पिंडदानी सहजता से पिंडदान  सकेंगे। गया ज़िले में PitruPaksha अलर्ट जारी कर दिया गया है।

DM त्यागराजन ने कहा कि इस वर्ष रबड़ डैम निर्माण होने से फल्गु नदी में पानी उपलब्ध रहेगा। सभी तीर्थयात्री देवघाट से रबड़ डैम के स्टील ब्रिज होते हुए सीताकुंड जाएंगे। स्टील ब्रिज पर पदाधिकारी तथा पुलिस पदाधिकारी की ड्यूटी रहेगी। उन्होंने कहा देवघाट, सूर्यकुंड तथा अन्य महत्वपूर्ण घाटों पर एसडीआरएफ तथा गोताखोरों की मौजूदगी रहेगी।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
पितृपक्ष के मौके पर गया शहर में दीपावली सी छँटा 
अन्तः सलिला फल्गु नदी तट पर विष्णुपद एवं सीताकुंड 

SSP हरप्रीत कौर ने कहा सूर्यकुंड का रास्ता काफी संकीर्ण है। सूर्यकुंड में भीड़ नियंत्रण पर काबू रखने के लिए आवश्यक व्यवस्था की जा रही है। आने वाले तीर्थ यात्रियों को किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो, इसका विशेष ख्याल रखा जा रहा है। नियंत्रण कक्ष  भी स्थापित की गई है। उन्होंने कहा गांधी मैदान में बनाए जा रहे टेंट सिटी में पर्याप्त सिक्योरिटी व्यवस्था बहाल रहेगा।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
बने रहिए ! AnjNewsMedia के साथ | अनवरत प्रस्तुति

 

देश के कोने- कोने से आने वाले तीर्थयात्रियों के लिए गयाजी पूरी तरह से सजधज कर तैयार है। अब सिर्फ उद्धघाटन की इंतजार है। मेला महासंगम की प्रशासनिक तैयारी पूरी हो चुकी है। 

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
गयाजी डैम का DM त्याग ने किया निरीक्षण

देवघाट निरीक्षण के दौरान जिला पदाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिया कि भीड़ पर काबू रखने हेतु जो भी प्रॉपर व्यवस्थाएं हैं उसे अच्छे से अनुपालन करवाने का निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विष्णुपद मंदिर के समीप चिड़ियों से देवघाट के जाने वाले रास्ते काफी संकीर्ण है तथा काफी अधिक संख्या में तीर्थयात्री इसी रास्ते का प्रयोग करते हैं उन्होंने उप विकास आयुक्त को निर्देश दिया कि चिन्हित किए गए विभिन्न आपातकालीन एंट्री एग्जिट पॉइंट्स को भी अच्छे से रेगुलेट करावे। देवघाट के निरीक्षण के दौरान पर्याप्त साफ सफाई की व्यवस्था पर्याप्त डस्टबिन इत्यादि व्यवस्था सुनिश्चित करवाने का निर्देश दिए।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
मेला क्षेत्र का DM त्याग एवं SSP कौर ने किया निरीक्षण

सूर्य कुंड निरीक्षण के दौरान जिला पदाधिकारी ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि अति शीघ्र रस्ता से सूर्य कुंड का बैरी कटिंग कराएं ताकि कोई हताहत ना हो सके साथी कम से कम 2 नाव सहित पर्याप्त संख्या में एसडीआरएफ तथा गोताखोरों की प्रतिनियुक्ति रखें।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
DM ने किया निरीक्षण

गयाजी डैम स्टील ब्रिज से होते हुए सीता कुंड जाने के रास्ते को समतल बनाने का निर्देश दिए साथ ही मजबूती से बैरिकेडिंग करवाने का निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गयाजी डैम निर्माण होने से जलस्तर पर्याप्त रहेंगे इसे ध्यान में रखते हुए कम से कम चार से पांच नाव तथा एसडीआरएफ एवं पर्याप्त गोताखोर उपलब्ध रखें कहीं भी कुछ घटना होने पर तुरंत रिस्पॉन्ड करें। गयाजी डैम स्टील ब्रिज पर दोनों और दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति करें ताकि ब्रिज पर तीर्थ यात्रियों के भीड़ को नियंत्रण रखा जा सके।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
pitrupaksha मेला क्षेत्र का
DM त्याग एवं SSP कौर ने किया निरीक्षण

वरीय पुलिस अधीक्षक  हरप्रीत कौर ने सीता कुंड देवघाट तथा सूर्य कुंड में पर्याप्त संख्या में वाच टावर लगवाने का निर्देश दिए ताकि हर गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा सके।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia

उक्त परिपेक्ष में जिला पदाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम तथा नगर पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार की अध्यक्षता में विष्णुपद अवस्थित बने पंडाल के सभागार में सभी सुपर जोनल दंडाधिकारी सुपर जोनल पुलिस पदाधिकारी जोनल दंडाधिकारी जोनल पुलिस पदाधिकारी सेक्टर दंडाधिकारी सेक्टर पुलिस पदाधिकारी सहित अन्य प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों के साथ ब्रीफिंग की गई।

ब्रीफिंग में जिला पदाधिकारी ने सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि इस वर्ष पितृपक्ष मेला, 2 वर्षों के बाद मनाया जा रहा है इस वर्ष, पूर्व वर्षो की अपेक्षा अधिक संख्या में तीर्थयात्री आने का पूरा अनुमान है। इसलिए सभी पदाधिकारी अपने अपने दिए गए दायित्वों का पूरी मेहनत, लगन से अनुपालन कराएं ताकि तीर्थयात्री जिले के राज्य के एक अच्छी छवि लेकर घर वापस लौटे। उन्होंने कहा कि प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है परंतु आप सभी का दायित्व है कि पितृपक्ष मेला अवधि के दौरान प्रत्येक दिन अपने अपने निर्धारित क्षेत्र का भ्रमण कर बिजली आपूर्ति, पेयजल एवं जलापूर्ति तथा साफ-सफाई सहित अन्य सभी व्यवस्थाओं का पर्यवेक्षण करते रहेंगे यदि कहीं किसी क्षेत्र में कमियां पाई जाती है तो उसे तुरंत संबंधित विभाग से समन्वय स्थापित करते हुए कमियां को दूर कराएंगे।

उन्होंने कहा कि सभी प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों अपने अपने क्षेत्र अंतर्गत जो भी घाट, वेदिया, पिंडदान स्थल आते हैं वहां पिंडदान के उपरांत पिंड सामग्रियों का निरंतर उठाव, साफ सफाई का पर्यवेक्षण करते रहेंगे। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देश दिया है कि विभिन्न पिंड वेदियां तथा घाटों के समीप पर्याप्त संख्या में डस्टबिन उपलब्ध करावे ताकि यत्र तत्र गंदगी ना फैले।

जिला पदाधिकारी ने कहा कि पूरे मेला क्षेत्र को 43 जोन में बांटते हुए कुल 209 सेक्टर स्थल/ पुलिस शिविर बनाते हुए अलग-अलग सेपरेट टीम बनाया गया है। उन्होंने सभी सुपर जोनल तथा जोनल दंडाधिकारी को निर्देश दिया है कि अपने अपने सेक्टर के प्रतिनियुक्त सभी पदाधिकारियों कर्मियों यथा स्वास्थ्य व्यवस्था जलापूर्ति व्यवस्था साफ सफाई व्यवस्था निर्बाध बिजली व्यवस्था भीड़ नियंत्रण व्यवस्था इत्यादि का निरंतर निगरानी रखेंगे यदि किसी सेक्टर में कोई समस्या आने पर त्वरित गति से अपने जोनल तथा सुपर जोनल दंडाधिकारी को सूचित करेंगे साथी मेला क्षेत्र के नियंत्रण कक्ष के दूरभाष संख्या पर सूचित करेंगे।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia

जिला पदाधिकारी ने सभी पदाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि पितृपक्ष मेला अवधि में कुछ ऐसी तिथियां हैं जिसमें और अत्यधिक संख्या में तीर्थ यात्रियों का आवागमन होता है उन तिथियों में भी भीड़ नियंत्रण मैनेजमेंट को अच्छे से अनुपालन करावे सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर पर्याप्त रोशनी साफ-सफाई पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करावे सभी घाटों तथा भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम अनिवार्य रूप से लगवाए। उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी तथा पुलिस उपाधीक्षक यातायात को निर्देश दिया है कि ट्रैफिक प्लान का अक्षरसह अनुपालन हो। किन स्थानों पर वन-वे किया जाना है किन स्थानों पर नो एंट्री किया जाना है इसका पूरी तरह इंप्लीमेंट कराया जाए। उन्होंने सभी पदाधिकारियों को कहा कि अलर्ट के साथ-साथ त्वरित रिस्पॉन्ड करें।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia

जिला पदाधिकारी ने कहा कि इस वर्ष रबड़ डैम निर्माण होने से फल्गु नदी में पानी भरपूर मात्रा में उपलब्ध रहेगा। इसे ध्यान में रखते हुए लगभग सभी तीर्थयात्री देवघाट से रबड़ डैम के स्टील ब्रिज होते हुए सीताकुंड जाएंगे, इसे ध्यान में रखते हुए भीड़ नियंत्रण पर विशेष नजर रखा जाए। विभिन्न स्थानों को चिन्हित करते हुए स्टील ब्रिज पर पदाधिकारी तथा पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति कराने का निर्देश दिया। उन्होंने देवघाट सूर्य कुंड तथा अन्य महत्वपूर्ण घाटों में एसडीआरएफ तथा गोताखोरों की उपस्थिति सुनिश्चित करवाया जाए।

गया | {दुल्हन की तरह सजा शहर}[छँटा अँधेरा ! शहर हुआ जगमग](PitruPaksha के लिए गयाजी सजधज कर तैयार)- AnjNewsMedia
अनवरत प्रस्तुति
ब्रीफिंग को संबोधित करते हुए नगर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सभी सेक्टर में प्रतिनिधित्व पदाधिकारी अपने निर्धारित क्षेत्र में ही ड्यूटी करें उस क्षेत्र में प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्था का लगातार जांच एवं अनुश्रवण करते रहें यात्रियों को अगर कोई समस्या होती है तो उसका तुरंत समाधान करावे। उन्होंने कहा कि विभिन्न घाटों विशेषकर सूर्य कुंड का रास्ता काफी संकीर्ण है सूर्य कुंड में भीड़ नियंत्रण पर काबू रखना अति आवश्यक है। रात्रि अवधि में ही ज्यादातर ट्रेन आ रहे हैं इसलिए रेलवे स्टेशन पर भीड़ नियंत्रण हेतु रेलवे के पदाधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित रखे ताकि विभिन्न राज्यों से आने वाले तीर्थ यात्रियों को किसी प्रकार की कोई समस्या/ परेशानी ना हो। यदि कहीं कोई समस्या हो तो वरीय पदाधिकारी या नियंत्रण कक्ष को सूचित करें। सभी तीर्थ यात्रियों के साथ व्यवहार कुशल रखे सभी तीर्थ यात्रियों के साथ व्यवहार कुशल रखें।

ब्रीफिंग को संबोधित करते हुए अनुमंडल पदाधिकारी सदर ने बताया कि पितृपक्ष मेला अवधि में विष्णुपद मंदिर के परिधि में काफी भीड़ रहती है यात्रियों को भारी जाम की समस्या से जूझना पड़ता है इस वर्ष तीर्थ यात्रियों की सुविधा तथा आम जनों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए विष्णुपद मंदिर के परिधि को नो हॉर्न तथा नो पॉल्यूशन जोन बनाया गया है। उन्होंने कहा कि विष्णुपद मेला क्षेत्र में आने वाले वाहनों को चांद चौरा मोड पर ही रोका जाएगा साथ ही बंगाली आश्रम से विष्णुपद मेला क्षेत्र में आने के लिए बंगाली आश्रम के पास ही वाहन को रोका जाएगा।

तमाम पदाधिकारियों तथा आम श्रद्धालुओं को पैदल अथवा जिला प्रशासन द्वारा मुहैया कराए गए निशुल्क पर्याप्त ई रिक्शा के माध्यम से ही चांद चौरा से विष्णुपद तथा बंगाली आश्रम से विष्णुपद आ- जा सकेंगे। यह व्यवस्था तीर्थ यात्रियों के हित में किया गया है ताकि तीर्थ यात्रियों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या का सामना करना ना पड़े। विष्णुपद मंदिर के समीप वाहनों को पूरी तरह प्रतिबंध रखा गया है।


- AnjNewsMedia Presentation 

No comments:

Post a Comment